KKR vs MI IPL 2021: हरभजन सिंह बने कोच, एमआई को हराने के लिए केकेआर के गेंदबाजों को बताया मंत्र

KKR vs MI IPL 2021- मुंबई इंडियंस को हराने के लिए हरभजन सिंह ने बने कोच
KKR vs MI IPL 2021- मुंबई इंडियंस को हराने के लिए हरभजन सिंह ने बने कोच

KKR vs MI IPL 2021- मुंबई इंडियंस को हराने के लिए हरभजन सिंह ने बने कोच: अपने 23 साल के लंबे क्रिकेट करियर में हरभजन सिंह ने कई अलग-अलग भूमिकाएँ निभाई हैं, एक नवोदित स्पिनर से लेकर भारत के प्रमुख गेंदबाज तक, वो ये सब रोल अदा कर चुके हैं।

अब कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) में उनकी मुख्य भूमिका सबसे अनुभवी गेंदबाज होने के नाते युवाओं के लिए एक संरक्षक के रुप में है और उन्होंने खुद को इस रोल में बखुबी डाल भी लिया है। टिप्स और ट्रिक्स के साथ हरभजन गेंदबाजों की मदद कर रहे हैं, ताकि केकेआर मंगलवार को एमए चिदंबरम स्टेडियम में उनकी पूर्व टीम मुंबई इंडियंस के मात दे सके।

भज्जी ने सोमवार को प्री-मैच कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “अपने अनुभव से मैं जिस भी तरीके से मदद कर सकता हूं, मैं टीम की मदद करता हूं। किसी एक विशेष बल्लेबाज के खिलाफ कैसे गेंदबाजी करनी है और विशेष रूप से यहां (चेपॉक) का मेरे पास बहुत अनुभव है। तो ये भी एक बात है, जो मैं गेंदबाजों को बता रहा हूं। हमें किन क्षेत्रों में काम करने की जरूरत है और किन-किन लंबाई में गेंदबाजी करने की जरूरत है। इस पर हम बात कर रहे हैं।”

ये भी पढ़ें- MI vs KKR in IPL 2021: मुंबई इंडियंस के खिलाफ पिछले 27 मुकाबलों में 21 बार हारी है कोलकाता नाइट राइडर्स, क्या आज जीतेगी?

KKR vs MI IPL 2021: मुंबई के खिलाफ हरभजन सिंह हो सकते हैं कोलकाता के एक्स-फैक्टर

हरभजन ने आईपीएल में अपनी ज्यादातर सफलता मुंबई इंडियंस के साथ देखी है, जिसमें वो तीन बार खिताब जीतने वाली एमआई का हिस्सा रहे और उनकी सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। वो साल 2008 से टीम के नियमित खिलाड़ी रहे और कई मौकों पर टीम की कप्तानी भी की।

उन्होंने 2013 के सीजन में 24 विकेट लिए और मुंबई को उसका पहली खिताब जीतने में महत्वपूर्ण रोल अदा किया। उन्होंने साल 2015 में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 24 गेंदों में 64 रन बनाकर बल्ले से भी अपनी टीम को जीताने का प्रयास किया।

इसके अलावा, साल 2018 और 2019 में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के साथ रहे हुए भी वो अपना योगदान देते चले गए। सीएसके के घर, चेपॉक की स्पिनींग टैक पर हरभजन अपने विरोधी टीम को परेशान करते आए हैं, इसलिए उनका प्रदर्शन देखने लायक होगा।

हरभजन ने कहा, “पिछले दो सत्र मैं सीएसके के साथ था और इस बार मैं कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ हूं… मैं मुंबई इंडियंस के साथ जिस तरह का प्रदर्शन कर रहा था, मैं उसी तरह का प्रदर्शन करना चाहुंगा या उससे भी बेहतर करूंगा। हो सकता है कि इस बार वो परपल रंग में हो।”

KKR vs MI IPL 2021: हरभजन सिंह हैं अपनी भूमिका से खुश

हरभजन ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ सिर्फ एक ओवर फेंका था और वो उन्होंने पारी की शुरुआत करते हुए डेविड वॉर्नर और रिद्धिमान साहा के खिलाफ किया था। लेकिन इसके बाद हरभजन को वापस गेंदबाजी करने के लिए नहीं बुलाया गया।

हरभजन ने कहा, “जब भी मुझे अपनी टीम के स्पिनरों या बल्लेबाजों को अपने ज्ञान की मदद से कुछ बताने का मौका मिलता है, तो मैंनजरुर उनसे कुछ शॉट्स खेलने के तरीके पर बात करता हूं और अनुभव साझा करता हुं। मैं उनसे बात करता हूं और जो भी हो सकता है, उसमें योगदान करने की कोशिश करता हूं। मैं यह सब अनुभव टीम को देना चाहता हूं ताकि वे अपने खेल में बेहतर हो सकें।”

वह एक बार फिर केकेआर के स्पिन विभाग में मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती और ऑलराउंडर शाकिब अल हसन के साथ तीसरा विकल्प होंगे।

IPL 2021 में KKR के प्लेइंग XI बनाम MI:

मॉर्गन जीत के फॉर्मूले में खलल नहीं डालना चाहेंगे और इसलिए उसी प्लेइंग इलेवन के साथ टिकने की संभावना है जिसने पिछले मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को ढेर किया था।

LIKELY XI: शुबमन गिल, राहुल त्रिपाठी, नितीश राणा, इयोन मोर्गन (कप्तान), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), आंद्रे रसेल, शाकिब अल हसन, पैट कमिंस, हरभजन सिंह, पी कृष्णा, वरुण चक्रवर्ती

ये भी पढ़ें- IPL 2021: अगली बार सैमसन दस गज और आगे मारकर हमें जीत दिलायेगा : संगकारा