PBKS vs MI, IPL 2021- 18 मैचों में मिली सिर्फ 6 जीत के बाद क्या केएल राहुल पंजाब का नेतृत्व करने के लिए सही विकल्प हैं?

PBKS vs MI, IPL 2021- 18 मैचों में मिली सिर्फ 6 जीत के बाद क्या केएल राहुल पंजाब का नेतृत्व करने के लिए सही विकल्प हैं?

PBKS vs MI, IPL 2021- 18 मैचों में मिली सिर्फ 6 जीत के बाद क्या केएल राहुल पंजाब का नेतृत्व करने के लिए सही विकल्प हैं?- केएल राहुल सीमित ओवर के शानदार बल्लेबाजों में एक हैं. अंतरराष्ट्रीय टी20 में 39.92 के औसत, वनडे में 48.68 की औसत और आईपीएल में 44.57 के औसत के साथ वो एक प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं लेकिन जब बात कप्तान की आती है तो ये बल्लेबाज अभी भी इस विभाग में कोसो दूर खड़ा दिखाई देता है.

ये भी पढ़ें-  KKR vs CSK: माही की मुस्कान ने जीते लाखों फैंस के दिल, Video हुआ वायरल

केएल राहुल के नेतृत्व करने की क्षमता इस समय सवालों के घेरे में है. आईपीएल के जारी सीजन में राहुल के नेृत्तव में पंजाब की टीम अपने 4 में से 3 तीन मुकाबले हार चुकी है और अंकतालिका में सबसे नीचे पायदान पर है. मुंबई इंडियंस के खिलाफ अगले मुकाबले में एक और हार टीम के इस सीजन के अभियान को लगभग खत्म कर सकती है. जैसाकि आईपीएल 2020 में देखने को मिला था.

Also Read: IPL 2021: आईपीएल का रोमांच, एक नजर Updated Points Table, Orange And Purple Cap पर

राहुल ये सब करते हुए एक बल्लेबाज के रूप में प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन पीबीकेएस का कप्तान बनने के बाद उनका कप्तानी रिकॉर्ड निराशाजनक से कम नहीं है. उनके नाम आईपीएल में मौजूदा कप्तानों की तुलना में अधिक हार है.

  • राहुल ने 18 मैचों में पंजाब किंग्स का नेतृत्व किया और केवल 6 मैचों में जीत हासिल की है.
  • राहुल का आईपीएल में कप्तान के रूप में सबसे खराब जीत-हार प्रतिशत है.
  • वर्तमान में केवल इयोन मोर्गन ही हैं जिनके पास केएल राहुल की तुलना में खराब रिकॉर्ड है.

IPL 2021 – Current 8 IPL Captains and their Captaincy Records

Player

Span

Mat

Won

Lost

Tied

%

MS Dhoni (CSK, RPS)

2008-2021

192

113

78

0

59.16

V Kohli (RCB)

2011-2021

128

58

63

3

47.98

RG Sharma (MI)

2013-2021

120

70

46

4

60

DA Warner (DD, SRH)

2013-2021

67

35

31

1

52.98

Rishabh Pant (DC)

2021-2021

4

3

1

0

75

KL Rahul (PBKS)

2020-2021

18

6

10

2

38.88

EJG Morgan (KKR)

2020-2021

11

3

7

1

31.81

SV Samson (RR)

2021-2021

3

1

2

0

33.33

 

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मिली रोमांचक जीत के साथ पंजाब ने सीजन की जोरदार शुरुआत की थी. इसके बाद वे अब लगातार तीन मैचों में हार का सामना कर चुके हैं जिसकी वजह प्लेइंग इलेवन में बदलाव और बल्लेबाजों का फ्लॉफ शो कुछ हद तक जिम्मेदार रहा है.

टीम में क्रिस गेल की क्या भूमिका है? यूनिवर्स बॉस क्रीज पर कम कम दौड़ने और अधिक शॉट्स खेलने के लिए जाने जाते हैं और केएल राहुल के लिए एक सही सलामी जोड़ीदार हो सकते हैं. गेल को नंबर तीन पर बल्लेबाजी पर भेजना टीम मैंनेजमेंट के लिए अभी तक निराशाजनक ही रहा है. वो अपना स्वाभाविक खेल नहीं खेल सके हैं. मयंक अग्रवाल को तीसरे नंबर पर और गेल के ओपनिंग करने से शायद पंजाब की तस्वीर बदल सकती है.

पंजाब किंग्स ने निकोलस पूरन को नंबर-4 पर क्यों रखा हुआ है? दुनिया के नंबर एक टी20 बल्लेबाज डेविड मलान के टीम में उपलब्ध होने के बावजूद पंजाब उनकी जगह निकोलस पूरन को टीम में जगह दिए जा रहा है. वेस्टइंडीज का ये बल्लेबाज इस सीजन में अभी तक फॉर्म में नहीं दिखा है. चार मैचों में उनका स्कोर 0,0,9,0 है.

रवि बिश्नोई क्यों नहीं खेल रहे हैं? हैदराबाद के खिलाफ पंजाब ने आईपीएल 2020 सनसनी रवि बिश्नोई की जगह मुरुगन अश्विन के साथ खेलने का फैसला किया. मुरुगन बीच के ओवरों में विपक्ष पर दबाव बनाने में नाकाम रहे, जोकि कुछ अन्य टीमों ने इस समय में शानदार प्रदर्शन किया. शायद युवा बिश्नोई इसे सुलझाने में मदद कर सकते हैं.

संघर्ष कर रहे मोहम्मद शमी की जगह भरने के लिए टीम में कोई नहीं:
मोहम्मद शमी से संघर्ष करने में कोई कसर नहीं छोड़ी: पंजाब के पास अपने तेज गेंदबाजी विभाग में विकेट लेने वाले गेंदबाजों के विकल्प का अभाव है. शमी उनके मुख्य तेज गेंदबाज हैं लेकिन अनुभवी तेज गेंदबाज पिछले कुछ समय से अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में नहीं हैं. चार मैचों में उनके पास चार विकेट हैं. पंजाब नीलामी के दौरान शमी के बैक-अप के रूप में क्वालिटी पेसर साइन करने के मौके से चूक गया. उनका सबसे बड़ा निवेश झे रिचर्डसन (14 करोड़) भी अब तक असफल रहा है.

राहुल ने 2020 में पंजाब किंग्स की बागडोर संभाली. कर्नाटक में जन्में राहुल ने बल्ले से व्यक्तिगत प्रतिभा दिखाई और सीजन का अंत ऑरेंज कैप होल्डर के रूप में किया लेकिन जितने अच्छे वो बल्लेबाज थे, उतना ही कप्तानी में उन्हें संघर्ष करना पड़ा. आईपीएल 2020 में 14 मैचों के दौरान टीम ने मिश्रित प्रदर्शन किया था. बड़े स्कोर बनाने के बावजूद पंजाब कुछ गलत फैसलों के कारण उनका बचाव करने के लिए संघर्ष करता रहा.

उदाहरण के लिए पिछले साल सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पंजाब ने जोरदार शुरुआत की. पहले फील्डिंग करते हुए राहुल का काम SRH के डेविड वार्नर और जॉनी बेयरस्टो को सस्ते में वापस भेजना था. इसलिए, उन्होंने मुजीब उर रहमान को पावरप्ले में गेंदबाजी थमाई. अफगानिस्तान के लेग स्पिनर ने पिछले दिनों में बेयरस्टो को काफी परेशान किया था और इसलिए वो अच्छा फैसला था. हालांकि पहला ओवर अच्छा होने के बावजूद उन्होंने रहमान को हटा दिया. जिसके बाद बेयरस्टो ने 97 रनों की मदद से टीम को 201 के स्कोर तक पहुंचने में मदद की.

पंजाब किंग्स के सहायक कोच एंडी फ्लावर ने संकेत दिया कि पंजाब की टीम मुंबई के खिलाफ बिना बदलाव के साथी उतरेगी. अपनी टीम से सर्वश्रेष्ठ निकालने का भार राहुल पर रहेगा. पंजाब किंग्स की टीम वर्तमान में IPL 2021 अंक तालिका में अंतिम स्थान पर है और खिताब की दौड़ में बने रहने के लिए या प्लेऑफ की दौड़ में पहुंचने के लिए उसे एक जीत की सख्त आवश्यकता है.

Advertisement