WWE: Asuka ने इंटरव्यू में बताया कब हुई वो नस्लभेद का शिकार,एशियन लड़कियों को भी दिया ये खास संदेश

WWE: Asuka ने इंटरव्यू में बताया कब हुई वो नस्लभेद का शिकार,एशियन लड़कियों को भी दिया ये खास संदेश
WWE: Asuka ने इंटरव्यू में बताया कब हुई वो नस्लभेद का शिकार,एशियन लड़कियों को भी दिया ये खास संदेश

WWE- Asuka ने इंटरव्यू में बताया कब हुई वो नस्लभेद का शिकार,एशियन लड़कियों को भी दिया ये खास संदेश:पूर्व डबल्यूडब्ल्यूई रॉ विमेंस चैंपियन हाल ही में एंटरटेनमेंट टुनाइट कनाडा ( Entertainment Tonight Canada ) का हिस्सा बनी थी।एशियन हैरिटेज मंथ (Asian Heritage Month) का बनने वाली असुका ने इस शो में अपने रेसलिंग करियर और डब्ल्यू़ब्ल्यूई (WWE) में एशियन स्टार बनने तक के अपने पूरी सफर की कहानी बताई। इसके साथ उन्होंने यह भी बताया की कैसे उन्हें एक बार नस्लभेद का शिकार बनना पड़ा था। जिसमें उत्तरी अमेरिका में एशियाई लोगों के खिलाफ हिंसा का विषय भी सामने आया।

इस बातचीत के दौरान पूर्व रॉ विमेंस चैंपियन ने नस्लवाद के अपने अनुभव को इस उम्मीद से सांझा किया कि उनकी ये पहले दूसरों की मदद करेगी। असुका ने हवाई अड्डे पर नस्लवाद से निपटने के समय के बारे में बात की और बताया कि वह एक दूसरे के साथ ऐसा करने वाले लोगों के विचार से कितनी नफरत करती हैं।

असुका ने कहा कि””मेरे पास नस्लवाद के साथ केवल एक अनुभव है। यह उस समय के आसपास था जब कोविड ​​-19 फैलने लगा था, “अमेरिका में, मैं हवाई अड्डे पर थी। एक महिला मेरे पास आई और जब उसने मुझे देखा तो उसने अपना मुंह अपने हाथ से ढंक लिया और मुझसे दूर भाग गई। मैं चौंक गई। कोविड-19 से पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था। ओह, मेरे भगवान! मुझे समझ नहीं आया मैं चौंक गई। मुझे इससे घृणा है! मैं नहीं समझती की घृणा करना समय की बर्बादी है। लोग दूसरे लोगों पर हमला क्यों करते हैं? हम इंसान हैं ना? मैं इसे नहीं समझती मुझे इससे नफरत है।”

असुका ने बताई डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार बनने की कहानी

असुका के पास एशियाई लड़कियों के लिए अपने सपनों को न छोड़ने का एक शक्तिशाली संदेश भी था। असुका ने इस बारे में बात की कि कैसे उन्होंने शुरू में इतना समर्थन नहीं पाया जब उन्होंने कहा कि वह एक डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार बनना चाहती थीं।

असुका ने कहा, “मैं एशियाई लड़कियों से कहना चाहती हूं कि अपने सपनों को मत छोड़ो। जब मैं 16 साल की थी तब मैं डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार बनना चाहती थी। एक दिन मैंने अपनी माँ से पूछा कि क्या मैं डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार बन सकती हूँ, और उन्होंने कहा, ‘नहीं, तुम्हें कॉलेज जाना है! मैंने अपने हाई स्कूल शिक्षक से भी कहा, ‘मैं एक डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार बनना चाहती हूं।’ उसने हंसते हुए कहा, ‘मूर्ख मत बनो।’

असुका ने तब डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार बनने के अपने जीवन भर के सपने को हासिल करने के लिए कॉलेज जाने से लेकर यात्रा तक को याद किया। असुका ने कहा कि “मैं चौंक गई थी। मेरे पास कोई विकल्प नहीं था। मैंने एक बार अपने सपने को छोड़ दिया। मैं कॉलेज गई और कॉलेज से ग्रेजुएट होने के बाद मैंने प्रशिक्षण शुरू किया। मैं अपने सपने को नहीं छोड़ सकी। मेरे दोस्तों ने मुझे विश्वास दिलाया, ‘तुम कर सकती हो!’ मैंने टोक्यो में एक रेसलिंग कंपनी को फोन किया। मैंने अपने होम टॉऊन ओसाका जापान को छोड़ दिया। अब मैं एक डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार हूं। तुम भी अपने सपने को मत छोड़ो!

Advertisement